बेरोजगारी किसे कहते हैं? (Berojgari Kise Kahate Hain)

बेरोजगारी क्या हैं, बेरोजगारी किसे कहते हैं (Berojgari Kise Kahate Hain), बेरोजगारी से आप क्या समझते है, बेरोजगारी के प्रकार, बेरोजगारी इन हिन्दी, बेरोजगारी की परिभाषा, बेरोजगारी का अर्थ, बेरोजगारी के कारण, आदि प्र्श्नो के उत्तर इस पोस्ट में दिये गए है |

बेरोजगारी किसे कहते हैं? (Berojgari Kise Kahate Hain)

किसी देश के नोजवानों को काम करने की ललक होने के बाद भी घोषित मजदूरी दर पर काम नहीं मिल पाना बेरोजगारी कहलाती है |

विकसित एवं विकासशील दोनों देशों में बेरोजगारी देखने को मिलती है | भारत देश जो कि एक विकासशील देश है, में कई सारे बेरोजगार लोग रहते है जिन्हें काम ही नहीं मिलता है |

बेरोजगारी को फोर्मूले से आसानी से समझा जा सकता है –

बेरोजगारी = श्रमबल- कार्यबल

Berojgari Kise Kahate Hain

इस फोर्मूले में दो शब्द श्रमबल व कार्यबल को समझना अतिआवश्यक है ताकि बेरोजगारी का अर्थ समझा जा सके |

किसी देश में काम करने के लिए इच्छुक व्यक्तियों को उस देश का श्रमबल कहते है | तथा देश में पाये जाने वाले श्रमबल को काममिल जाता है उसे कार्यबल कहा जाता है |

अत: श्रमबल में से कार्यबल को कम करने के बाद जो लोग बचते है वे बेरोजगार की श्रेणी में आते है | जिस देश में जीतने अधिक लोग बेरोजगार होंगे उसे देश में बेरोजगारी की मात्रा अधिक होगी |

क्या आप जानते है कि बेरोजगारी के मुख्य कारण कौन-कौन से है? आखिर बेरोजगारी क्यों उत्पन्न होती है?

देश की जनसंख्या में लगातार वृद्धि होना तथा व्यवसायिक शिक्षा को महत्त्व न दिया जाना बेरोजगारी के मुख्य दो कारण है |

बेरोजगारी और बेकारी दोनों एक ही चीज है |

यह भी पढे- ब्रेकअप किसे कहते हैं?

बेरोजगारी के प्रकार

बेरोजगारी के निम्न प्रकार होते है-

  1. संरचनात्मक बेरोजगारी
  2. अदृश्य बेरोजगारी
  3. खुली बेरोजगारी
  4. मौसमी बेरोजगारी
  5. स्वैच्छिक बेरोजगारी
  6. अनैच्छिक बेरोजगारी
  7. छिपी बेरोजगारी
  8. चक्रीय बेरोजगारी
  9. अल्परोजगार

संरचनात्मक बेरोजगारी किसे कहते हैं?

जब देश के आद्योगिक जगत में बदलाव के कारण लोग बेरोजगार हो जाते है तो इस प्रकार की बेरोजगारी को सरंचनात्मक बेरोजगारी कहा जाता है |

आद्योगिक जगत की स्थिति पुन: सही होने तक सरंचनात्मक बेरोजगारी बनी रहती है | अर्थात यह बेरोजगारी कई दिनों, महीनों, सालों तक हो सकती है |

भारत देश में पायी जाने वाले बेरोजगारी सरंचनात्मक बेरोजगारी का एक अच्छा उदाहरण है |

अदृश्य बेरोजगारी किसे कहते हैं? (प्रच्छन्न बेरोज़गारी)

जब किसी काम को करने के लिए में जरूरत से अधिक लोग लगा दिये जाते है | परिणामस्वरूप उस काम की उत्पादकता लगभग शून्य होती है | ऐसी स्थिति में उन अधिक लोगों को काम से निकाल दिया जाता है |

इन लोगों को काम से निकालने पर उत्पादकता पर कोई विपरीत प्रभाव नहीं पड़ता लेकिन लोग बेरोजगार हो जाते है |

इस प्रकार की बेरोजगारी को अदृश्य बेरोजगारी या प्रच्छन्न बेरोज़गारी कहा जाता है | भारत में कृषि क्षेत्र में प्रच्छन्न बेरोज़गारी फेली हुई है |

खुली बेरोजगारी किसे कहते हैं?

कुछ लोगों के पास काम करने की योग्यता होती है और काम भी उपलब्ध हो जाता है परंतु लोग खुद काम ही नहीं करना चाहते है और परिवार के अन्य सदस्यों पर पूरी तरह निर्भर रहते है | इस प्रकार उत्पन्न होने वाली बेरोजगारी खुली बेरोजगारी कहलाती है |

मौसमी बेरोजगारी किसे कहते हैं?

जब लोग साल के कुछ दिनों में काम करते है तथा बाकी महीनो में उन्हें कोई काम ही नहीं मिलता है उसे मौसमी बेरोजगारी कहा जाता है |

भारत में कृषि क्षेत्र में मौसमी बेरोजगारी देखने को मिलती है | किसान लोग साल में दो फसल करते है तथा बाकी दिनों में कोई काम नहीं करते |

अनैच्छिक बेरोजगारी किसे कहते हैं?

जब मजदूर वर्ग के लोगों को कोई काम ही नहीं मिले तो उन्हें बिना काम के ही रहना पड़ता है | उनकी इच्छा तो होती है कि वे काम करे लेकिन काम नहीं मिलने के कारण बेरोजगार बने रहते है |

इस प्रकार की बेरोजगारी को अनैच्छिक बेरोजगार कहा जाता है।

चक्रीय बेरोजगारी किसे कहते हैं?

देश की अर्थव्यवस्था में आर्थिक मंदी, सुस्ती व पुन: तेजी आने के कारण उत्पन्न होने वाले बेरोजगारी चक्रीय बेरोजगारी कहलाती है |

छिपी बेरोजगारी किसे कहते हैं?

कभीकभार लोग काम करते रहते हैं लेकिन अन्य लोगों को लगता है कि उनका काम अच्छा चल रहा है परंतु वास्तव में ऐसा नहीं होता | इसे छिपी बेरोजगारी की श्रेणी में रखा गया है |

FAQs

प्रश्न 01- बेरोजगारी क्या है |

उत्तर- पूर्ण रोजगार के अभाव में लोगों को काम नहीं मिलने की वजह से उत्पन्न स्थिति को बेरोजगारी कहते हैं |

प्रश्न 02- बेरोजगारी का दूसरा नाम क्या हैं?

उत्तर- बेकारी |

प्रश्न 03- बेरोजगारी के 4 प्रकार कौन कौनसे है ?

उत्तर- मौसमी, संरचनात्मक, चक्रीय, अद्रश्य बेरोजगारी |

अंतिम दो लाइन

आज इस पोस्ट में बेरोजगारी को विस्तार से समझाया गया है | बेरोजगारी किसे कहते है (Berojgari Kise Kahate Hain), बेरोजगारी के कारण व प्रकार आदि को सरल हिंदी भाषा में प्रस्तुत किया गया है |

Leave a Comment