फीडबैक किसे कहते हैं ? (Feedback Kise Kahate Hain)

आपने फीडबैक का नाम सुना होगा आखिर फीडबैक किसे कहते हैं? (Feedback Kise Kahate Hain)

मैंने इस पोस्ट में फीडबैक क्या है, फीडबैक के प्रकार, फीडबैक कैसे लिखे, आदि के बारे में सरल हिन्दी भाषा में समझाया है |

यदि आप पता नहीं है कि फीडबैक में क्या लिखा जाता है तो यह पोस्ट आपके बहुत काम आने वाली है |

आप इस पोस्ट को पढ़कर किसी को फीडबैक कैसे दे सीख सकते है |

Feedback Kise Kahate Hain

फीडबैक किसे कहते हैं ? (Feedback Kise Kahate Hain)

फीडबैक का मतलब किसी व्यक्ति द्वारा किए गए कार्य का आकलन करके उसेक कार्य की तारीफ करना या कमियाँ बताना होता है |

प्रत्येक व्यक्ति के लिए फीडबैक की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होती है | फीडबैक का प्रयोग करके व्यक्ति अपने कार्य में और अधिक सुधार कर सकता है और सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकता है |

अन्य लोगों द्वारा दी गयी वह जानकारी या टिप्पणी जिसका उपयोग अपने कार्य को और अधिक बढ़िया बनाने में किया जाता है उसे फीडबैक कहते है | यह एक बहुमूल्य जानकारी होती है जिसे के द्वारा भविष्य में महत्वपूर्ण निर्णय लेने आसानी होती है |

लोगो द्वारा दिये गए फीडबैक के आधार पर एक व्यक्ति या कंपनी अपने व्यवसाय में और अधिक सुधार करते हुए आगे बढ़ती जाती है |

व्यक्ति या कंपनी फीडबैक के द्वारा प्रेरित होती है कि आगे और अच्छा काम करे तथा अपने कार्य या प्रॉडक्ट मे सुधार करते हुए उसे बढ़िया बनाए |

फीडबैक की सही उपयोग करके प्रदर्शन में लगातार सुधार किया जाता है | अत: हम कह सकते है कि फीडबैक निरंतर सीखने का एक जरिया है |

फीड बैक कितने प्रकार के होते है?

फीडबैक दो प्रकार होते है जो कि निम्नलिखित है-

  1. सकारात्मक फीडबैक
  2. नकारात्मक फीडबैक

01. सकारात्मक फीडबैक

वे फीडबैक जिसके आपके द्वारा किए गए कार्य की तारीफ की गयी हो उसे सकारात्मक फीडबैक कहते है |

02. नकारात्मक फीडबैक

वे फीडबैक जिसके आपके द्वारा किए गए कार्य में कमियाँ निकलते हुए, कमियों का वर्णन किया गया हो इसे नकारात्मक फीडबैक कहते है |

नकारात्मक फीड बैक में अपने सुझाव का वर्णन किया जाता है |

फीडबैक में क्या लिखा जाता है?

यदि आप किसी को फीडबैक देना चाहते है और आपको पता ही नहीं है कि फीडबैक में क्या लिखा जाता है? तो आपको यह पता होना चाहिए कि फीडबैक में चीज का वर्णन किया जाना चाहिए जिसके बारे में आपने आकलन किया है |

यदि सामने वाले व्यक्ति का कार्य आपको अच्छा लगा हो और आपको काफी सीखने को मिला तो आप फीडबैक में आपको तारीफ करनी चाहिए | कार्य को करने के तरीके व जानकारी को बढ़िया बताते हुए सकारात्मक फीडबैक देना चाहिए |

इसके विपरीत यदि सामने वाले व्यक्ति का कार्य सही नहीं हो और उसके द्वारा बताई जाने वाली जानकारी आपको गलत लगी और आपकी समस्या का समाधान नहीं हुआ हो तो आपको नकारात्मक फीडबैक देना चाहिए |फीडबैक कैसे लिखे?

यह भी पढे- हार्ड कॉपी किसे कहते हैं?

किसी को फीड बैक कैसे दे? (फीडबैक कैसे लिखे)

आपके मन मे यह भी प्रश्न घूम रहा होगा कि आखिर किसी को फीड बैक कैसे दे ?

यदि आपने कोई ऑनलाइन कोर्स किया और उस कोर्स से आपने नया स्किल सीखा और आपकी जॉब लग गयी | ऐसी स्थिति में यह स्पष्ट होता है कि कोर्स की वजह से आपकी जिंदगी सुधर गयी |

अब ऑनलाइन कोर्स बनाने वाले व्यक्ति या कंपनी को आपका फीडबैक इस प्रकार रहेगा –

“हैलो मिस्टर, आपके द्वारा ऑनलाइन कोर्स मैंने खरीदा और वह कोर्स इतनी बढ़िया तरीके से बनाया गया था जिसकी मदद से मैं नया स्किल सीखा पाया | उसी स्किल से मेरी आज जॉब लग गयी | मैं चाहता हूँ कि आप ऐसे ही काम करते रहे जिसकी मदद से लोगो की जिंदगी सँवर जाये |”

यदि आपको नकारात्मक फीडबैक देना है तो सामने वाले व्यक्ति के काम या प्रॉडक्ट के बारे में पायी गयी कमियों की लिस्ट बताते हुए इसे सुधारात्मक व उपचारात्मक सुझाव देना चाहिए |

इसके अलावा फीडबैक देते समय निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए-

  • फीडबैक को स्पष्ट, सरल भाषा में समझाते हुए लिखना चाहिए |
  • एक अच्छे कमेंट से साथ फीडबैक शुरु किया जाता चाहिए |
  • नतीजे के बारे वर्णन करते हुए फीडबैक देना चाहिए |
  • नेगेटिव फीडबैक को विस्तार से समझाते हुए उसके समाधान व निदान पर अपने सुझाव दिये जाने चाहिए |
  • हमेशा नेगेटिव फीडबैक को सलाह के रूप में लिखा जाना चाहिए |

फीडबैक से संबन्धित प्रश्न व उत्तर

फीडबैक का मतलब क्या है?

फीडबैक का मतलब किसी व्यक्ति द्वारा किए गए कार्य का आकलन करके उसेक कार्य की तारीफ करना या कमियाँ बताना होता है |

फीडबैक में क्या लिखते है?

फीडबैक मे सामने वाले व्यक्ति के काम का आकलन करते हुए उसके कार्य की प्रशंसा की जानी चाहिए और यह स्पष्ट करना चाहिए कि आपने उनसे काफी कुछ सीखा है | आपका बहुत बहुत धन्यवाद |

फीडबैक क्या है इसके प्रकार बताइये?

लोगों द्वारा आंकलन के बाद कार्य की प्रशंसा या कमियों के बारे में की गई टिप्पणी को फीडबैक कहते है | फीडबैक दो प्रकार के होते है –
01. सकारात्मक फीडबैक
02. नकारात्मक फीडबैक

अंतिम दो लाइन

इस पोस्ट में फीडबैक किसे कहते हैं? (Feedback Kise Kahate Hain), फीडबैक क्या है, फीडबैक के प्रकार, फीडबैक कैसे लिखे, किसी को फीडबैक कैसे दे, तथा फीडबैक में क्या लिखा जाता है आदि के बारे में विस्तार से समझाया गया है |

आप इस पोस्ट को पढ़कर बेझिझक फीडबैक लिख सकते है |

Leave a Comment