गूगल किसे कहते हैं? (Google Kise Kahate Hain)

आपने गूगल का नाम तो सुना ही होगा | यदि हाँ तो क्या आप जानते है कि गूगल किसे कहते हैं? (Google Kise Kahate Hain)

यदि नहीं तो आज इस पोस्ट में गूगल क्या है, गूगल का मालिक कौन है, तथा गूगल को किसने बनाया है इत्यादि प्र्श्नो के उत्तर मिलने वाले है |

गूगल के बारे में अधिक से अधिक जानकारी इस पोस्ट में लिखी गयी है | इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप गूगल के सम्पूर्ण जानकारी हासिल कर लेंगे | यह मेरा वादा है |

Google Kise Kahate Hain

गूगल किसे कहते हैं? (Google Kise Kahate Hain)

गूगल अमेरिका की एक बहुराष्ट्रीय कंपनी है जिसने इंटरनेट की दुनिया में कब्जा कर रखा है | लोग गूगल को ही इंटरनेट मानने लगे है |

जबकि वास्तव में गूगल एक कंपनी का नाम है जिसके वर्तमान में इंटरनेट की दुनिया में 20 से अधिक प्रॉडक्ट काम काम कर रहे है | सभी प्रॉडक्ट इंटरनेट पर आधारित है |

भारत में पिछले 20-25 वर्षों पहले लोगों के पास मोबाइल फोन नहीं हुआ करते थे तथा लोग इंटरनेट के बारे में भी नहीं जानते थे |

भारत में जब से जियो का नेटवर्क आया है तब से हर घर में लोगों के पास स्मार्ट फोन आ गया है | जियो ने शुरुआत में फ्री इंटरनेट देने की वजह से लोग गूगल पर जानकारी ढूंढते रहते है |

कुछ भी जानना है तो लोग गूगल कर लेते है | इसलिए भारत में लोग गूगल को जानने लगे है |

लोगों में विश्वास है कि गूगल के पास सारी जानकारी है और गूगल पर सर्च करने पर सभी जानकारी मिल जाती है |

अत: गूगल ज्ञान का वह भंडार है जिसमें बहुत सारी जानकारी व सूचनाएँ संग्रहित है उसे गूगल कहते है |

गूगल का सबसे महत्वपूर्ण प्रॉडक्ट सर्च इंजन है जिसमें कई सारी वैबसाइट का डाटा संग्रहीत है | जब भी कोई सवाल गूगल से पूछा जाता है तो गूगल अपने संग्रहीत डाटा से उस सवाल का जवाब दे देता है |

सर्च इंजन के अलावा भी गूगल के कई सारे प्रॉडक्ट है जिसमे द्वारा गूगल पैसे कमाता है |

आप जो यूट्यूब देखते है वह भी गूगल कंपनी का ही एक प्रॉडक्ट है | अत: गूगल दुनिया की एक बहुत बड़ी कंपनी है |

गूगल सर्च इंजन ( गूगल का एक प्रॉडक्ट) वर्तमान में दुनिया का सबसे पोपुलर व सबसे बड़ा सर्च इंजन है | पिछले कुछ वर्षो से गूगल ने बिंग सर्च इंजन व याहू सर्च इंजन को पछाड़ते हुए नंबर वन सर्च इंजन बन गया |

यह भी पढे- स्वर्ग किसे कहते हैं?

गूगल कंपनी के विभिन्न प्रॉडक्ट

गूगल दुनिया की बहुत बड़ी कंपनी है | यह अमेरिकी कंपनी है परंतु अब लगभग प्रत्येक देश में गूगल ने अपनी शाखाएँ खोली हुई है |

गूगल के 20 से अधिक प्रॉडक्ट वर्तमान में काम कर रहे है जिसके माध्यम से गूगल कमाई कर रहा है | गूगल के प्रॉडक्ट की सूची इस प्रकार है-

  • गूगल सर्च इंजन (दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन)
  • जी मेल (संदेश भेजने का एक माध्यम)
  • गूगल ड्राइव (ऑनलाइन फ़ाइल रखने का स्थान)
  • गूगल प्ले स्टोर (एंडरोइड मोबाइल एप्लिकेशन का स्टोर)
  • गूगल क्रोम (वेब ब्राउज़र)
  • गूगल पिक्सल (मोबाइल फोन)
  • गूगल मेप (मेप)
  • डूडल होम पेज
  • यूट्यूब (विडियो का विसाल भंडार)
  • गूगल असिस्टेंट
  • गूगल लेंस
  • क्रोम ऑपरेटिंग सिस्टम (लैपटाप का ऑपरेटिंग सिस्टम)
  • गूगल पे (पैसे भेजने का माध्यम)
  • गूगल डॉक्स (ऑनलाइन दस्तावेज़ पढ़ने, लिखने का माध्यम)
  • गूगल फोटोज (फोटोज स्टोर रखने का माध्यम)
  • गूगल ट्रांसलेटर (एक भाषा को दूसरी भाषा में बदलने का माध्यम)
  • गूगल एड (विज्ञापन का एक माध्यम)
  • गूगल क्लाउड कम्प्यूटिंग (सर्वर पर ऑनलाइन जगह खरीदने का माध्यम)
  • एडमोब

यह भी पढे- अंधभक्त किसे कहते है?

गूगल की शुरुआत

गूगल शब्द अँग्रेजी के एक अन्य शब्द गूगोल की अशुध्द वर्तनी है | इसका मतलब ‘वह नंबर जिसके एक के बाद सौ जेरो हो’ होता है |

वर्ष 1996 में स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी केलिफोर्निया के पीएचडी के दो छात्र लैरी पेज तथा सर्गेई ब्रिन ने गूगल की शुरुआत की थी | सितंबर 1998 में आधिकारिक रूप से गूगल की स्थापना हुई थी |

गूगल का मुख्यालय माउंटेन व्यू, केलिफोर्निया में स्थित है परंतु वर्तमान में प्रत्येक देश में गूगल की शाखा काम कर रही है | इससे साबित होता है कि गूगल दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है |

गूगल जिसका सबसे पोपुलर प्रॉडक्ट गूगल सर्च इंजन है, के लिए गूगल ने दुनिया के कोने कोने में डाटा सेंटर स्थापित किए हुए है | इस डाटा सेंटर में वैबसाइट का डाटा संग्रहीत होता जा रहा है |

ऐसा बताया जाता है कि प्रतिदिन करोड़ों वैबसाइट बनती है | इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि गूगल के पास आज तक कितना डाटा पड़ा हुआ है और रोजाना नया डाटा भी स्टोर होता जा रहा है |

शुरुआत से गूगल का मिशन विश्व में ज्ञान को व्यवस्थित तथा सर्वत्र उपलब्ध और लाभप्रद करना रहा है जो कि सिद्ध होता दिख रहा है |

वर्तमान में गूगल की ओफ़्फ़िसियल वैबसाइट गूगल.कॉम है | जिसमें काम कोई भी प्रश्न या जानकारी सर्च कर सकते हो |

वर्तमान में गूगल के सीईओ सुंदर पिचई है जो कि एक भारतीय है |

गूगल का कोई फुल फॉर्म नहीं है फिर भी आपको इंटरनेट पर गूगल का फुल “फॉर्म ग्लोबल ओर्गेनाइजेशन ऑफ ओरिएनटेड ग्रुप लेंगवेज़ ऑफ अर्थ” मिलेगा |

यह भी पढे- रोली मोली किसे कहते है?

गूगल से संबन्धित प्रश्न व उनके उत्तर

गूगल शब्द का क्या अर्थ है?

गूगल शब्द अँग्रेजी के एक अन्य शब्द गूगोल की अशुध्द वर्तनी है | इसका मतलब ‘वह नंबर जिसके एक के बाद सौ जेरो हो’ होता है |

एक कंपनी के रूप में गूगल का क्या अर्थ है?

गूगल कंपनी का एक नाम है |

गूगल क्या है और किसने बनाया है?

गूगल एक अमेरिकी बहुराष्ट्रीय कंपनी है | गूगल का फुल फॉर्म गूगल का फुल “फॉर्म ग्लोबल ओर्गेनाइजेशन ऑफ ओरिएनटेड ग्रुप लेंगवेज़ ऑफ अर्थ” होता है | गूगल के संस्थापक लैरी पेज तथा सर्गेई ब्रिन थे |

गूगल का पूरा नाम क्या है?

गूगल का फुल “फॉर्म ग्लोबल ओर्गेनाइजेशन ऑफ ओरिएनटेड ग्रुप लेंगवेज़ ऑफ अर्थ” होता है |

गूगल कब आया?

सितंबर 1998 में गूगल आया था |

गूगल कंपनी का मालिक कौन है?

गूगल कंपनी के मालिक  लैरी पेज तथा सर्गेई ब्रिन है।

गूगल किस देश की कंपनी है?

गूगल अमेरिका की एक कंपनी है |

गूगल के सीईओ कौन है?

सुंदर पिचई (एक भारतीय) |

अंतिम दो लाइन

इस पोस्ट में आपने गूगल कंपनी के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल की है | साथ ही गूगल किसे कहते हैं? (Google Kise Kahate Hain) तथा गूगल का फुल फॉर्म की विस्तार से व्याख्या इस पोस्ट में की गयी है | आपको यह जानकारी जरूर अच्छी लगी होगी | गूगल के और अधिक यहाँ से पढे |

Leave a Comment